कब मिलतइ विकलांग के सुविधा

biklang
विकलांग कृष्ण कुमार

जिला सीतामढ़ी, प्रखण्ड डुमरा, पंचायत परोहा, गांव रामपुर। उहां के कृष्ण कुमार पुरे शरीर से विकलांग छथिन। जिनकर उम्र बाइस  साल हो गेल हई। लेकिन बी.पी.एल. में नाम न हई। जेई कारण उनका कोनो सुविधा न मिल रहल हई।
उहां के लोग कहलथिन कि इ लड़का के अपना से कुछो न होई छई। दिन भर दुरे पर बइठल रहई छई। पैर हाथ से घुसकइत रहई छथिन। रामनन्दन राय कहलथिन कि हमरा इहे एगो बेटा हय उहो कोनो काम के न हई। जब इ दु साल के रहई त सिधे  धुसकई एकरा बाद हम कहां कहा इलाज करइली मगर न ठीक भेलक। अब विकलांग पेंसन तीन  सौ के महिना मिलइय। न राशन मिलइ छइ न मिटटी तेल घर त नहीये हय न इंदिराआवास। जब कि सरकार गरीब के लेले सब सुविधा देइ छथिन। लेकिन न हमरा, न बेटा के कोनो सुविधा न मिल रहल हय एक त गरीब दोसर में बी.पी.एल. स्कोर दस कर देले छथिन। पता न कब सुधार होतई।
मुखिया अरूण राम कहलथिन कि ट्राईसाईकिल उनका मिलल हई। लेकिन अउर दोसर सुविधा जब बी.पी.एल. में नाम जोरा जतई तब मिलतई।