कबै होइ वादा पूर

चित्रकूट जिला मा विधानसभा चुनाव के समय समाजवादी पार्टी घोषणा पत्र जारीimages करिस रहै कि शिक्षामित्रन का सपा सरकार आवैं के बाद सहायक मास्टर बनावा जई अउर मानदेय बढ़ावा जई। या बात का अब लगभग तीन साल होये वाले हवैं, पै सरकार का शायद आपन कीन गा वादा भूल गा हवै। या कारन साठ हजार शिक्षामित्र परेशान हवैं।
यहै कारन चित्रकूट जिला के शिक्षामित्र बी.टी.सी प्रशिक्षण करै बइठे हवै। यहै बात का लइके हजारन शिक्षामित्र पिछले छह महीना से धरना प्रदर्शन करैं मा लाग हवै कि कत्तौ तौ सरकार हमार सुनवाई करी। धरना धरै मा स्कूलन के मास्टर भी पीछे नहीं हवै। मास्टर भी अपने कइयौ मांगन का लइके ज्ञापन दें मा लाग हवैं, पै सरकार उनकर कउनौ ध्यान नहीं देत आय। पहिले सरकार कहिस रहै कि शिक्षामित्रन का सहायक मास्टर मा जोड़ा जई। अउर मानदेय बढ़ावा जई तौ काहे नहीं करत आय? का सरकार के लगे बजट नहीं आय? तौ काहे झूठ वादा करिस रहै?
चुनाव के समय मड़इन से वादा कीन जात हवै। वहिका पूर कबै करिहैं? मास्टरन अउर शिक्षामित्रन का कहब हवै कि अगर जिला मा हमार सुनवाई न होइ तौ हम लखनऊ मुख्यमंत्री के लगे आपन हक ले खातिर जइबे।