कबै तक होत रही समझौता

mahela mudda 3जिला चित्रकूट, ब्लाक पहाड़ी, गांव दुबारी। हिंया के गुलसन बानो का आरोप हवै कि ससुराल वाले 2014 से दहेज मा एक लाख रूपिया के मांग करत हवै। यहिसे उंई मोरे साथै मारपीट करत हवै। 22 तई का मारपीट कइके घर से बाहर निकार दिहिन। यहिके रपट राजापुर मा लिखाइगे हवै।

गुलसन बानो काहिस कि मोर शादी 2014 मा बिहरवा गांव के रहै वाले इस्माइल साथै भे रहै। शादी होत के समय एक लाख रूपिया नहीं मांगिन। अब रूपिया मांगत हवै। मोर बाप महतारी गरीब हवै। उनके लगे येत्ता रूपिया नहीं आय कि वहिके मांग पूर कीन जाये। यहै से रूपिया खातिर 22 मई का ससुर साबिर अली, देवर शकील खूबै मारिन अउर घर से निकार दिहिनं। देवर शकील कहिस कि कउनौ नहीं मारिस। वा झूठै आरोप लगावत हवै। राजापुर थाना के मुंशी राजू विमल कहिन कि कउनौ के नाम रपट नहीं लिखाइस। कहत हवै कि मनसवा अउर ससुराल वालेन का बोला के समझौता करा देव।