कइसे होतइ पढ़ाई के भरपाई

 बंद परल विद्यालय
बंद परल विद्यालय

जिला शिवहर के सब प्राथमिक अउर मध्यविद्यालय 7 अप्रैल से बंद हइ। जेई कारण बच्चा सबके पढाइ में दिक्कत हो रहल हइ।
खाजेपुर मध्यविद्यालय के सतवां वर्ग के ऐसा खातून, मुन्नी कुमारी, राकेष कुमार कहलथिन की आइ पैतीस दिन से विद्यालय सब बंद हई। जेइ कारण हमरा सब के पढाई मे बाघा होइय। अतेक  दिन विद्यालय बंद रहतइ त कोर्स के अनुसार पढाइ के भरपाई केना होतई?
प्रिति कुमारी के पिता विजय महतो, रीतु कुमारी के माय रामकुमारी देवी कहलथिन की विद्यालय बंद होय से बच्चा सब अउर बिगर गेलइ। ऐइ में शिक्षक चाहे सरकार सबके कथी जा रहल हइ। ऐइ से त बच्चा सबके भविष्य पर पड रहल हइ। विद्यालय खुलल रहइ छइ त एक दिन बच्चा न जाइ छइ त हाजरी काट देइ छइ। शिक्षक  सब सरकार के नियम खोजइ छथिन। बच्चा हाजरी के अनुसार छात्रवति मिलतइ, त उ नियम कहां गेलइ?
शिक्षक  सुघीर कुमार, अच्छेलाल राम, दिनेष महतो कहलथिन  की सरकार से हमर सबके मांग हय की समान काम के समान वेतन देवे। हम आठ घंटा डिउटी करइ छी लेकिन डिउटी के अनुसार रूपइया न मिलइय। अइ के लेल अनिष्चित कालीन हडताल कयले छी।
जिला शिक्षा पदाघिकारी वर्षा सहाय कहलथिन कि इ लोग सरकार से वेतनमान के लेल मांग कर रहल छथिन। त हम सब की कर सकई छी। इ त सरकार अउर शिक्षक  के बीच के बात हइ।