ईद के समय नक्खास,चौक बंद

taza fainalजिला लखनऊ। यहां 1 अगस्त 2013 को इंशा की नमाज के समय दो समुदायों के बीच झगड़ा हो गया। इसमें पथराव भी हुआ और गोलियां भी चलने लगी। जिसमें तीन को गोली लगी।
हुसैनगंज की निवासी फरजाना ने बताया कि तकिया वाली मस्जिद में नमाज़ हो रही थी। अचानक कहीं से पथराव होने लगे। कुछ लोगों ने पथराव करने वालो को दौड़ाया तो दौडने की आवाज सुनकर हम लोग अपनी छत से देखने लगे। तभी बिजली बंद हो गई और गोलियां चलने लगी। गोलियां की आवाज सुनते ही हम लोग नीचे जाने के लिए पीछे घूमे। घूमते ही मेरी बेटी फरहीन की पीठ मे दांये तरफ गोली लग गई। झगड़े की वजह से नक्खास और चैक के दुकानदारों के काम काज ठप हो गये है।
नक्खास के दुकारदार अब्दुल रज्जाक ने बताया कि इस बार तो बहुत नुकसान हो गया। जबकि यही कमाई का सीजन होता है। दंगे के डर से दुकान नहीं लगा पा रहे । रहीम ने बताया कि हमारी दुकान में आग लगा दी। कई दुकानों को तोड़ दिया।