आसाराम की ज़मानत नामंज़ूर

ashaजोधपुर, राजस्थान। 1 सितंबर को  जोधपुर पुलिस ने खुद को संत मानने वाले आसाराम बापू को हिरासत में ले लिया। आसाराम पर सोलह साल की लड़की के बलात्कार का आरोप है। लड़की की मेडिकल जांच हो चुकी है। आसाराम ने आरोप को झूठा बताया।4 सितंबर को जोधपुर के सत्र न्यायालय ने आसाराम की ज़मानत नामंज़ूर कर दी। आसाराम और उनके दो साथी – शिल्पी और शिवा के खिलाफ ़धोखाधड़ी का मुकदमा चलेगा। साथ ही आसाराम पर बलात्कार और डराने धमकाने की धाराएं भी लगाई गई हैं। आसाराम 15 सितंबर तक पुलिस हिरासत में रहेंगे।