आठ महीना से लगावत चक्कर

सफीना अउर वहिके सास
सफीना अउर वहिके सास

जिला चित्रकूट, ब्लाक मानिकपुर, गांव सरहट का मऊगढ़ी पुरवा। हिंया के सफीना बेगम के आठ महीना पहिले लड़का पैदा भा रहै। वहिका अबै तक डिलेवरी मा मिलै वाला चैदह सौ रूपिया नहीं मिला आय।
सफीना बेगम का कहब हवै कि सरकार कइती से बच्चा पैदा होय के बाद चैदह सौ रूपिया मिलत हवै, पै मोहिका आठ महीना होइगे अबै तक चैदह सौ रूपिया नहीं मिला आय। या कारन मानिकपुर सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र के चक्कर लगावत हौं। केन्द्र के डाक्टर कहि देत हवैं कि पहिले खाता खोलवा ले तबै चैदह सौ रूपिया मिली। खाता खोलावै मा बैंक वाले राशन कार्ड मांगत हवैं। मोरे लगे राशन कार्ड नहीं आय तौ कसत रूपिया मिली। यहिके खातिर प्रधान रामबरन कुशवाहा से कइयौ दरकी कहे हौं, पै वा कउनौ ध्यान नहीं देत आय।
प्रधान रामबरन कुशवाहा का कहब हवै कि जबै नये राशन कार्ड बनिहैं तौ बनवा दीन जई। सफीना बेगम कागज लइके आई रहै तौ मोहर अउर आपन दस्तखत कइ दीने रहौं।