अलीगढ़ में फ्लैट मे मिली लड़की की लाश

(फोटो साभार: फेसबुक)
(फोटो साभार: फेसबुक)

अलीगढ़। अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी (ए.एम.यू) में छात्रसंघ अध्यक्ष पद के लिए चुनाव लड़ने वाली पहली महिला अस्मा जावेद की लाश 13 मई को उनके कमरे से मिली है। अस्मा के घरवालों को संदेह है कि उसकी हत्या हुई है। अस्मा यहां के सिविल लाइन के अल हम्द अपार्टमेंट के फ्लैट -8 में रहती थी। अस्मा के भाई ने बताया कि वह 11 मई को अपनी बहन के घर गए थे। वहां ताला लगा था। अस्मा का मोबाइल बंद था। इसके बाद वह होटल में रुक गए। उन्होंने अपनी बहन के गायब होने की खबर भी लिखाई।
12 मई को पुलिस की मौजूदगी में ताला तोड़ा गया। तो अस्मा की लाश मिली। पुलिस ने बताया कि यह लाश तीन चार दिन पहले की है। चेहरे और सिर पर चोट थी। अस्मा के भाई सलमान ने बताया कि रेस्टोरेंट कारोबारी अकरम से उसकी बहन का विवाद हुआ है। मामला कोर्ट में चल रहा था। सलमान का आरोप है कि यह हत्या अकरम ने करवाई है। अकरम और अस्मा के बीच पहले प्रेम संबंध था। अस्मा जावेद ए.एम.यू. की चर्चित छात्रा रही हैं और हिंदी विभाग के शिक्षक पर यौन उत्पीड़न का आरोप भी लगा चुकी हैं। अस्मा ने 2010 में ए.एम.यू से छात्रसंघ अध्यक्ष पद का चुनाव लड़ा था। वह यहां से चुनाव लड़ने वाली पहली महिला छात्र थीं।