अमेरिका के चर्च पर हमला, नौ की मौत

(फोटो साभार: विकिपीडिया)
(फोटो साभार: विकिपीडिया)

चाल्र्सटन, अमेरिका। अमेरिका में दक्षिण कैरोलिना राज्य के चाल्र्सटन शहर में मौजूद एक अफ्रीकी-अमेरिकी चर्च में हुए हमले में नौ लोगों की मौत हुई। यहां ताबड़तोड़ गोलियां चलाकर हमलावर भाग गया। यह चर्च अफ्रीकी लोगों के बीच बहुत लोकप्रिय है। अफीक्री समुदाय के अश्वेत लोग इस चर्च में ज़्यादातर आते जाते हैं।

पुलिस के अनुसार 17 जून को रात नौ बजे शहर के इमैन्युअल अफ्रीकन मेथडिस्ट एपिस्कोपल चर्च में बंदूक लिए व्यक्ति ने अंधाधुंध गोलियां चलाईं। हमले के दौरान चर्च में बैठक चल रही थी। पुलिस के अनुसार हमलावर बीस साल का लड़का है। यह श्वेत समुदाय का है। मामले में कई ऐसे लोगों को गिरफ्तार भी किया गया जिन पर शक है। हालांकि मामले की जांच में जुटी टीम को एक बेहद महत्त्वपूर्ण सुराग हाथ लगा है। एक वेबसाइट लास्टरोडेसियन. काम में एक बीस-इक्कीस साल के लड़के की फोटो मिली है जिसने हाथ में अमेरिका का झंडा ले रखा है। इस लड़के का नाम डेलिन रूफ है।

पुलिस को शक है कि यह वही लड़का हो सकता है जिसने गोलियां चलाईं हैं। चाल्र्सटन शहर के मेयर रिले ने कहा कि ऐतिहासिक चर्च पर हमला दुखद है। इस चर्च को 1865 में बनवाया गया था।