अप्रैल से लापता, क्या हुई, उसकी हत्या

जिला बाराबंकी, थाना क्षेत्र दरीयाबाद। मीन नगर की 40 वर्षीय उषा 15 अप्रैल से लापता है। उषा के ससुराली जन उसके कहीं चले जाने की बात करते हैं तो वहीं मायके वाले लोग उसकी हत्या की आशंका जता रहे हैं। मायके के तरफ से बोलने वाला कोई नहीं। मायके पक्ष के लोगों में उषा के गाँव का पड़ोसी सामने आया लेकिन उसकी बातों से भी कुछ स्पष्ट नहीं होता। पड़ोसी का कहना है कि 15 साल पहले उषा की शादी मीन नगर के दीनानाथ राउत से हुई थी। मैं उसकी शादी में शामिल हुआ था। उषा अपने माँ बाप की इकलोती संतान है शादी के बाद पता चला की उसका पति सऊदी में काम करता है और वही रहता भी है। लेकिन उसकी भी कुछ सालों पहले मौत हो गई इसी बीच मेरा उषा के ससुराल वालों के गाँव शादी में जाना हुआ तब वहां के लोगों ने कहा कि दीनानाथ की पत्नी गायब हो गई है! तुम गाँव वाले कुछ करते क्यों नहीं! अभी 22 अप्रैल को जब मैंने अपनी बेटी की शादी का कार्ड उसके ससुराल अपने बेटे के हाथ भिजवाया था उषा तुमसे मिलना नहीं चाहती इसके बाद 29 को गाँव के कुछ लोगों ने उषा के कब्रिस्तान में दफन होने की बात भी कही जिसकी पुष्टि के लिए कब्रिस्तान भी खोदा गया है। गांव वालों ने भी बताया है कि उषा कुछ दिनों से परेशान थी रोती थी।
लेकिन बच्चे को धमकाने के बाद उसने अपना बयान बदल दिया पुलिस भी ससुराल पक्ष की तरफ से बोल रही है दरियाबाद थाना प्रभारी रत्नेस सिंह ने बताया कि ससुराल वालों ने 15 अप्रैल को तहरीर दर्ज करायी थी कि उषा शौच के लिए सुबह निकली और वापस नहीं आई। ऐसा उसने 5-6 साल पहले भी किया था और लौट आई थी शायद इस बार भी यही कुछ कर रही हो ससुराल वाले भी परेशान हैं और उसे खोज रहें हैं। हम भी अपनी तरफ से उसे ढूंढ़ने की पूरी कोशिश कर रहे हैं।

रिपोर्टर – लक्ष्मी शर्मा