अधूरो परो पुल

जिला महोबा, ब्लाक पनवाड़ी। ई ब्लाक के लगभग पांच गांवन के बीच बनो नाला आदमियन की परेशानी को कारन बनो हे। एइसे आये जाये वालेन का बोहतई परेशानी होत हे।
इते के लगभग दस  गांवन की परेशानी हे। भुजपुरा गांव की सुनिया दादरी गांव की नोनीबाई, दरस ओर घटेरा गांव के हरेन्द्र पुष्पेन्द्र ने बताओ के जो नाला को पुल दो साल से अधूरो परो हे। जीसे लगभग छह गांव के आये-जाये वाले आदमियन खा बोहतई परेशानी हे। ई नाला की चैड़ाई बीस मीटर हे। जीमें पानी ओर गिलाव भरो रहत हे। न तो कोनऊ पेदल निकल पाउत हे। ओर न तो साधन। अगर निकरत हें तो बीच में फंस जात हें ओर पल्टे को भी डर बनो रहत हे। ओर गिलाव के कारन जोन गड्ढ़ा हें। ऊं गड्ढ़ा में केला के पत्ता से डार के निकरत हे। ओर जभे पानी बरस जात तो ऊ भी डूब जात हे। परेशानी होत हें, पे का कर सकत हें, रहने हें, तो मुसीबत सहने परहे अगर जो नाला को पुल बन जाये तो बोहतई नींक हो जाये।
प्रधान अंजना ने बताओ के अभे हमने ऊ पुल के लाने कछु नई सोचो आये।
बी.डी.ओ दीन दयाल ने बताओ के ऊ नाला को पुल हमाये कार्य योजना में नइया अगर हमाये कार्य योजना में होतो तो हम जरूर बनवा देत। ओर ऊखे लाने कम से कम एक या डेढ़ करोड़ रूपइया होय खा चाही। नई तो वो नाला एसई पड़ो रहे जेहें।