अधिकारिन के लगाउत चक्कर

 मुआवजा के करत मांग
मुआवजा के करत मांग

जिला महोबा, ब्लाक कबरई, कस्बा कबरई, जवाहर नगर। एते के लगभग पचासन आदमियन के कुंआ अर्जुन बांध परियोजना के डूब क्षेत्र में चले गये हें । किसान अपने कुअंन के मुआवजा के लाने आधिकारियन के चक्कर लगाउत हें।
कस्बा के दयाराम, राजू, संतराम ओर प्रभा सिंह ने बताओ कि हमने अपने अपने खेतन में कुआं खुदवाये हते। जोन पूरे बांध के डूब क्षेत्र में चले गये हें। जमीन को मुआवजा तेरह लाख छह हजार रूपइया एक हेक्टेयर के हिसाब से मिल गओ हे, पे कुंअन को मुआवजा नई मिलो। ईखे लाने हमने 3 सितम्बर 2013 खा तहसील दिवस में डी.एम. अनुज कुमार झा खा दरखास दई हती। ऊने हमें अश्वासन दओ हतो, कि रूपइया आ गओ हे। जल्दी सब खा रूपइया मिल जेहे। महीना बीते के बाद भी अभे तक कछु सुनवाई नइयां। एई से हमने 12 नवम्बर 2013 खा एस.डी.एम. खा दुबारा दरखास दई हे। ई समय हमाये कुंअन की कीमत दो लाख हे। हम गरीब आदमी हंे। अगर हमाओ रूपइया मिल जायें तो कहूं दूसरी जगह कुआं खोदवा लेबी।
सिंचाई विभाग के सींच परवेक्षक (अमीन) सुघर लाल ने बताओ कि वित्तीय सहायता के तहत कुअंन को मुआवजा सर्वे के तहत डी.एम. तय करहें कि कीखा कित्तो मुआवजा दओ जाय। काय से कुआं जित्तो पुरानो होत जात हे। ऊखो मुआवजा ओत्तई कम मिलत हे।