पन्ना में हीरा

पन्ना जिले के एक हीरा खदान चलाने वाले गरीब ग्रामीण की किस्मत उस वक्त चमक गई जब खुदाई के दौरान उसे बेशकीमती हीरा मिला। इस हीरे की कीमत करीब 50 लाख बताई जा रही है।

पन्ना जिला मुख्यालय से 15 किलोमीटर दूर सरकोहा में जनकपुर निवासी किसान प्रकाश शर्मा एक खेत पर अपने 2 दोस्तों के साथ मिलकर साझेदारी में खदान चला रहे हैं। वह सरकोहां निवासी कित्तू रैकवार के खेत पर खनिज विभाग की परमीशन से खदान चला रहे हैं। 14 सितंबर को वह हीरे की चाल बीन रहे थे तभी अचानक कंकड़ों के बीच चमकदार हीरा दिखाई दिया। हीरे को लेकर प्रकाश शर्मा अपने साथियों सहित खनिज कार्यालय पन्ना पहुंचा, जहां पर उसने हीरे को जमा कर दिया।

खनिज विभाग के हीरा पारखी ने इस हीरे का वजन 12 कैरट 58 सेंट बताया। इसकी अनुमानित कीमत करीब 50 लाख बताई जा रही है।

हीरा पाने वाले प्रकाश शर्मा का कहना है कि हीरे से जो कीमत नीलामी के बाद मिलेगी। उससे मैं कोई व्यवसाय खोलूंगा ताकि मेरा शेष जीवन सुखी पूर्वक व्यतीत हो और आगे बच्चों का भविष्य सुधर सके।

बता दें, वन राजस्व विभाग होने के कारण अब बहुत अधिक हीरा के लिए स्वीकृत हीरा धारित क्षेत्र नहीं बचा। इसलिए हीरा धारित राजस्व भूमि के अलावा कुछ निजी भूमियों में भी विभाग की परमीशन से खदानें चलाने का प्रावधान है। जिससे जिनके खेतों में हीरा खदान लगाते हैं उस खेत के मालिक की 20 से 25 प्रतिशत की हिस्सेदारी होती है।