40 परिवारों को बेघर कर रहा है चित्रकूट का रेलवे ओवरब्रिज

जिला चित्रकूट, ब्लाक कर्वी के खोह गांव मा चालिस परिवारन का आपन घर छोड़े का मजबूर हवैं। काहे से हिंया रेलवे विभाग का ओवरब्रिज बनावा जात हवै। मड़ई मुआवजा के मांग करत हवै पै सरकार अबै तक कुछौ फैसला नहीं करिस आय। 12 जनवरी का डीएम का ज्ञापन दीन गा हवै पै आश्वासन बस मिला हवै। सांसद प्रतिनिधी का कहब हवै कि या समस्या के बारें मा लोकसभा मा बात कीन जई अउर मड़इन का उचित मुआवजा देवावा जई।
माया देवी का कहब हवै कि घर मा हम आपन दुकान रखे हन तौ ओवरब्रिज बने से घर के साथै रोजगार भी छीन लीन जई। शारदा बताइस कि ओवरब्रिज बने से हमार घर टूट जई, हमरे रहै खातिर दूसर घर नहीं आय। दारका प्रसाद अउर बबलू का कहब हवै कि मोर पूर जमीन ओवरब्रिज बनावें मा चली जई। हमें उचित मुआवजा दीन जायें नहीं तौ दूसर रास्ता से ओवरब्रिज बनावा जायें। आनन्द का कहब हवै कि दुई तीन महीना पहिले सर्वे कीन गा रहै। हमार सुनवाई न होइ तौ हम रेल जाम करबै।

रिपोर्टर- सुनीता देवी

Published on Jan 23, 2018