23 अप्रैल से गायब लड़के की चित्रकूट जिले के बेड़ी पुलिया क्षेत्र में खुदाई के समय मिली लाश

20 मई 2018 का चित्रकूट जिला के क्षेत्र बेड़ीपुलिया मा जहाँ नवा बसस्टॉप बनत हवै। वहिके पीछे एक लाश मिली हवै। जानवर चरावै वालेन का बदबू आवत रहै के कारन पुलिस तक पहुंची हवै। पुलिस खोदाई कराइस हवै, तौ लाश गलगे रही हवै। वा गली लाश से एक कागज अउर हड्डी मिली हवैं। जेहिकर शिनाक्त करावै के खातिर वुई नंबर मा फोन कइके मड़ई का बोलावा जाता हवै। 23 अप्रैल से गायब धीरज का 20 मई का बेड़ीपुलिया इलाका मा मिली लाश जेहिकर पहिचान 21 मई का बधवाइन गांव के शिवप्रसाद का आपन बीस वर्षीय बेटा धीरज के रूप मा किहिस हवै। जउन चन्दन पटेल नाम के मड़ई के हिंया गाड़ी  चलावत रहै।

रामकुमार बताइस हवै कि मोर ससुराल मा एक घटना भे हवै,तौ वुई मोहिका फोन किहिन हवैं। फेर मैं आके 100 नंबर पुलिस का फ़ोन किन्हें हौं। दस मिनट बाद पुलिस आ गे हवै। पहिचान खातिर मड़ई का फोन कइके बोलावा जात हवै। एक पर्श अउर एक डायरी मिली हवै। छेदीलाल बताइस हवै कि हमार संबंध का, तौ नहीं समझ मा आवत आत। हमार हिंया से कउनौ नहीं गायब भा आय। मृतक का चाचा विजय कुमार बताइस हवै कि पहिचान मा नहीं आवत आय कि कउन आय। कउनौ गायब नहीं आय। रिश्तेदार दारन से पता करै के बाद, पता चला हवै कि धीरज आय। एसपी चित्रकूट मनोज कुमार झा का कहब हवै कि या तौ खदान के दौरान हुंवा कउनौतान के घटना भे हवै जेहिका छुपावे के खातिर या लाश का गाड़ दीन गा हवै। या घटना के बारे मा जल्दिन से पता लगावा जई अउर कार्यवाही कीं जई। या फेर कउनौ का संदेह होय, कि खदान का कउनौ मजदूर गायब होय, तौ वा मड़ई आके हमार लगे बता सकत हवै। जेहिसे या केस के मामला कुछ सहयोग मिल सके।    

रिपोर्टर: नाजनी रिजवी

Uploaded on May 22, 2018