मासिक आर्काइव: December 2015

ये क्या…मछली के पेट में मछली?

न्यूज़ीलैंड। वैसे आपने सुना होगा कि मछली के पेट से बहुत कुछ मिलता रहता है। पानी में बहुत सारी चीजें होती हैं जो मछलियां...

मस्त है बाजीराव मस्तानी

                                               ...

तुमको नहीं भूल पाएंगे- 2015

जब साल की शुरूआत होती है तो हर कोई अपने लिए सोचने लगता है कि वह क्या क्या खास करने वाला है इस साल।...

पिपरिहा की निडर ग्राम सदस्य, सुनीता

पिपरिहा गाओं, मऊ ब्लॉक। जब सुनीता चुनाव लड़ने को खड़ी हुई तो कई लोगों ने विरोध किया क्यूंकि वह पाल जाति से थीद्य परिवार...

अनारकली चांदपुरा की नयी प्रधान… फिर से

चांदपुरा, महोबा। अनारकली कहती है कि वह एक भी पढ़ी लिखी नहीं है क्योंकि उसके मायके की स्थिति ज्यादा अच्छी नहीं थी। फिर वह...

वाणी शुक्ल, सेवा संस्थान की बहादुर अध्यक्ष

जिला फैजाबाद। वाणी सेवा संस्थान का काम 2014 से शुरू किया। वह खुद एक विकलांग है। उन्होंने बचपन से पढ़ाई लिखाई जैसे हर मोड़...

बबिता सिंह, 1090 की वीर एस.पी

जिला लखनऊ। बबिता बताती हैं कि शादी के छह साल बाद ही उनके पति कि मौत हो गई। उसके कुछ दिन बाद ही उनकी...

2015 में उत्तर प्रदेश – योजनाओं और वादों की भरमार, पर कार्यान्वयन पर उठते...

2015 अब खत्म होने वाला है। अखिलेश यादव का मुख्य मंत्री बनने की पहली अवधि भी खत्म होने वाली है। इस मौके पर पलट...

सूखा नहर, किसानन कै बढ़ी चिन्ता

फैजाबाद मा नहरन कै स्थिति यहि समय काफी खराब बाय। जेसे किसानन का काफी दिक्कत कै सामना करै का परत बाय। किसाानन मा काफी...

इनतान के गलन भरी ठण्डी से लोगन का जियब हराम

या समय कड़ाके के ठण्डी लोगन का घर अउर रजाई के अंदर रहैं के बाद भी जीना हराम करे है, तौ बाहर आवैं जाये...