हैरान करता है ‘सिमोन बाइल्स’ का हुनर

साभार: गूगल
साभार: गूगल

सिमोन बाइल्स 19 साल, चार फुट आठ इंच अमेरिका की अश्वेत जिमनास्ट हैं। सिमोन का जिमनास्टिक (व्यायाम का एक खेल। जिसमें करतब किये जाते हैं) से प्यार 6 साल की उम्र में शुरू हुआ था। छोटी कद-काठी लेकर जिमनास्ट बनने का सपना देखना कोई आसान बात नहीं था। लेकिन सिमोन को कोई रोक न सका।
सिमोन 19 साल की उम्र में ही वर्ल्ड चैंपियनशिप के इतिहास में सबसे ज्यादा गोल्ड मेडल जीतने वाली जिमनास्ट बन गईं हैं। उनके विशेष करतब में वह ‘तीन करतब’ एक साथ करती हैं। 2013 में किए गए उनके इस करतब को कोई और दोहरा नहीं पाया था। इस करतब का नाम ही अब उनके नाम पर ‘द बाईल्स’ रख दिया गया है। अपने इस चर्चित करतब के बारे में सिमोन कहती हैं, ‘मेरे बहुत से दोस्त यह करने की कोशिश करते हैं। लेकिन वो नहीं कर पाते। जिससे वो उदास हो जाते हैं।’
सिमोन की कोच कहती हैं, ‘जो करतब सीखने में दूसरों को सालों लग जाते हैं, वो सिमोन तीन दिनों में सीख जाती हैं।’ अब तक 13 स्वर्ण पदक और चौदहवीं विश्व प्रतियोगिताएं जीतने वाली सिमोन की निगाहें अब रियो ओलंपिक पर है। उनकी प्रतिभा का अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है कि लोग उनके बारे में कहते हैं कि वो रियो ओलंपिक में पांच स्वर्ण पदक जीतेंगी।
इतनी कम उम्र में ही सिमोन कई उतार-चढ़ाव से गुजरी हैं। सिमोन की मां नशा करती थी। वो सिमोन और उनकी बहन का ख्याल नहीं रख पा रही थीं, इसलिए सिमोन के दादा-दादी ने सिमोन और उनकी बहन को गोद ले लिया। सिमोन अपनी दादी को ‘माँ’ कहकर पुकारती हैं। दिग्गजों का कहना है कि अभी सिमोन जैसा जिमनास्ट कोई नहीं है।
सिमोन की इच्छाएं कुछ अलग है। हालांकि उन्हें खुद पर काफी गर्व है लेकिन रिटायरमेंट के बाद वो एक नर्स बन लोगों की सेवा करना चाहती हैं।