हिस्सा खातिर घर से निकारिन

banda magila mudda Risora photoजिला बांदा, ब्लाक महुआ, गांव रिसौरा, मजरा श्यामलाल का पुरवा। हेंया के माया का आरोप है कि वहिके ससुराल वाले हिस्सा न दे खातिर घर से निकार दिहिन हैं। यहिसे 1 सितम्बर का वा उनके खिलाफ कारवाही करैं आई रहै।
माया बताइस कि मोर पति 2005 मा बीमारी के कारन मर गा रहै। तबै लड़की छोट सी रहै। पति के मउत के बाद ससुराल वाले मोरे साथै मारपीट अउर गाली गलौज करै लाग पै कउनौतान गुजार के लड़की के शादी करेंव। लड़की के शादी होय के बाद ससुर अउर देवर मार के मोहिका घर से निकार दिहिन। अब छह साल होइगे मइके मा भाइन साथैं रहिके मेहनत मजदूरी करत खात हौं। ससुराल वाले न खाना, खर्च दे न रहैं का घर न कतौ त्यौहारन मा लड़की का बुलावत आय। जब कि मोरे ससुर के नाम बारह बीघा जमीन है। माया या भी कहिस कि मोर ससुराल वाले लड़की के शादी मा भी कुछ समान नहीं दिहिन। यहिसे लड़की के ससुराल वाले वहिका भी मारत है अउर समान न मिलैं का ताना देत हैं। अब मैं आपन जिन्दगी गुजारौं कि लड़की के यहिसे सोचत हौं कि ससुराल वाले मोर हिस्सा दई दे तौ मोर अउर लड़की का गुजर होय।
ससुर मंगीलाल कहत है कि वा मइके मा रहिके खाना खर्चा मांगत है तौ न दइहौं। घर मा आ के रहै तौ सब मिली अउर लड़की का भी बुलावा जई। गिरवां एस.ओ. धनश्याम पाण्डेय कहत है कि दरखास मिली है। मामला के जांच कीन जई।