हरियाणा में पिछले 10 सालों में लिंगानुपात में आया सुधार

साभार: पिक्साबे/एस रोहिल्ला

गिरते लिंगानुपात के लिए बदनाम हरियाणा इस मामले में अब सम्भलते हुए दिख रहा है। गुजरे साल यानी दिसम्बर में यहाँ लड़कियों का अनुपात प्रति एक हजार लड़कों के मुकाबले 900 के पार पहुंच गया है। ऐसा दस वर्षों में पहली बार हुआ है।
दिसम्बर में 12 जिलों में लिंगानुपात 900 से ऊपर पहुंचा है वहीं सिरसा इस सूची में शीर्ष पर है जहां प्रति एक हजार लड़कों पर 999 लड़कियां हैं। आंकड़ों को देखें तो पंचकूला में लिंगानुपात 961, करनाल में 959, फतेहाबाद में 952, गुड़गांव में 946, सोनीपत में 942, जींद में 940, रेवाड़ी में 931, मेवात में 923, भिवानी और महेंद्रगढ़ में 912 और हिसार में 906 है। जबकि सूची में सबसे कम अनुपात झज्जर का 794 लड़कियों का है।
हालांकि यह दावा किया जा रहा है कि राज्य में अगले छह महीने के अंदर 950 का लिंगानुपात हासिल करने का लक्ष्य प्राप्त कर लिया जायेगा।