स्वास्थ्य केद्र कै हाल बेहाल

फैजाबाद अउर अम्बेडकर नगर जिला के कइयौ सरकारी अस्पताल मा कइयौ महीना से बुरा हाल बाय। कइयौ अस्पताल मा न विजली, न पानी अउर न ही महिला डाक्टर अहंै। बीमार मरीजन का हर तरह से भटकै का परत बाय। षासन प्रषासन का यहि सब समस्या कै जानकारी हुवय के बाद भी कउनौ ठोस कदम नाय उठावत अहैं।
सरकार गरीबन के हर तरह के सुबिधा के ताई अस्पतालन मा पैसा भेजाथै पर वह पैसा जनता मा काहे खर्च नाय कीन जात? अस्पताल कै नल अगर महीना भर से खराब बाय अउर बिजली भी कइयौ महीना से नाय आवत बाय तौ वका ठीक करावै कै जिम्मेदारी आखिर केकै बाय?
एक तौ बिमार मरीज दूसरा पानी अउर हवा दुइनौ के लिए भटकत अहैं तौ उनकै तबीयत अउर भी ज्यादा खराब होय जाथै। तीसरी बात की अस्पताल मा महिला डाक्टर न हुवय से मेहरारुन का इलाज करवावै मा सबसे ज्यादा मुसीबत कै सामना करै का पराथै। जब महिला डाक्टरन कै कमी बाय तौ सरकार भर्ती काहे नाय करत बाय?