सोसाइटी खस्ता हाल, गल्ला मण्डी मालामाल

जिला बांदा। बुन्देलखण्ड मा यू.पी. सरकार एक कइत नई गल्ला मण्डी बनवा के ठाड कर दिहिस है। जिनका कउनौ भी इस्तेमाल निहाय। दूसर कइत सोसाइटिन का खस्ता हाल है। कउनौ सोसाइटी गिरैं के हालत मा है कतौं के नई सोसाइटी बरसात मा चुवत है। जहां किसानन के खाद अउर बीज भीगत हैं अउर बइठै के जगह तक निहाय।

महुआ ब्लाक के खुरहण्ड कस्बा के सोसाइटी तो गिरैं के हालत मा आ गे है। कइयौ बार नई सोसाइटी बनवानै के मांग कीन गे, पै प्रसाषन ध्यान नहीं देत आय। किसान राकेष अउर मुन्ना का कहब है कि सरकार नई गल्ला मंडी का बनवा के खडा कर दिहिस है। जिनका कउनौ उपयोग निहाय। फतेहगंज सोसाइटी का अध्यक्ष भागवत गुप्ता कहत है कि हेंया नई सोसाइटी का निर्माण 24 लाख 76 हजार की लागत से पैकफेट संस्था के तहत 2013.14 मा करवावा गा है, पै सोसाइटी के हालत तो पुरानी सोसाइटी से भी खराब है। पूरी सोसाइटी चूवत है। इनतान के हालत मा हम लोग का करन। किसानन का भीग खाद उठावैं का परत है । पैकफेट निर्माण प्रखड चित्रकूट धाम बांदा के एक्सीयन आर.के. द्विवेदी बताइन कि 25 सोसाइटीन के रूप मा बनवावैं का आदेश है गोदाम बनवावैं का काम पिछले साल मिला रहै। 9 गोदामन का काम पुर होई गा है। बांकी का काम प्री कैब टैक्नोलेजी के तहत होई। एक सोसाइटी बनै का 13लाख 7 हजार रूपिया मिला है।