सेहतमंद मां और बच्चा- कहां हवै योजना

जिला चित्रकूट, ब्लाक मऊ, गांव खोहर, मजरा लसही। हिंया के राजकुमारी अउर अन्नू बच्चा पैदा करावैं बरगढ़ के उपकेन्द्र गई रहै। उनका 108 नम्बर के एम्बुलेंस घर लेवावैं खातिर नहीं गे हवै। ऊपर से ए.एन.एम. दुइ सौ रूपिया अउर दाई सौ रूपिया लिहिस हवै। या कारन उंई परेशान हवैं।
मजरा के राजकुमारी अउर अन्नू कहिस कि अपने कइती से तीन सौ रूपिया मा टैम्पो कइके बरगढ़ के उपकेन्द्र गये रहेन। 108 नम्बर के एम्बुलेंस नहीं आई रहै। या कारन तीन सौ रूपिया लगा के बरगढ़ उपकेन्द्र गे रहेन हुंवा ए.एन.एम. भी दुइ सौ रूपिया लइ लिहिस हवै। चैदह सौ रूपिया का चेक लें खातिर किराया भाड़ा लगा के जाये का परत हवै। सरकार सुविधा तौ दीने हवै, पै कउनौ सुविधा मेहरियन का जननी सुरक्षा के तहत नहीं मिल पावत आय का फायदा इनतान के सुविधा होय से।
आशा बहू श्यामवती का कहब हवै कि हिंया कउनौ एम्बुलेंस नहीं चलत हवै। अपने रूपिया से आटो कइके जइत हन। बरगढ़ उपकेन्द्र के ए.एन.एम जउन लसही पुरवा देखत हवै। वहिकर नाम मैरी कुट्टी हवै। वा कहिस कि कउनौ से रूपिया नहीं लीन जात हवै। अगर मड़ई अपने से दइ देत हवै तौ लइ लेत हन। आशा बहू एम्बुलेंस का फोन करैं तौ वा लेवावैं खातिर जई।
मऊ सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र के डाक्टर का कहब हवै कि यहिके बारे मा कउनौ जानकारी नहीं आय। अगर इनतान कीन जात हवै तौ कारवाही होइ।
जिला चित्रकूट, ब्लाक मानिकपुर, गांव किहुनिया, पुरवा बंधा भीतर। हिंया रंची कहिस कि बहू सोना के पेट मा सात महीना का बच्चा रहै। वहिके पानी जाये लाग तौ अप्रैल के महीना मा मानिकपुर के सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र इलाज करावैं गें रहौं तौ केन्द्र के डाक्टर इलाज नहीं करिन अउर एम्बुलेंस का ड्राइवर दुइ सौ रूपिया लिहिस हवै डाक्टर कहिन कि हिंया इलाज न होइ। यहै से प्राइवेट अस्पताल मा इलाज कराये हौं दुइ हजार रूपिया लाग हवै, पै मोर बहू सोना ठीक होइगे हवै। सरकार तौ कहत हवै कि सरकारी अस्पताल मा नींक दवाई होत हवै। बिना रूपिया का इलाज होत हवै, पै सरकारी अस्पताल नाम के हवैं। कउनौ के जान जात होय तौ हुंवा के डाक्टर नहीं सुनत आय। बिना देखै कहि देत हवै कि कर्वी या इलाहाबाद लई जाये का कहि देत हवैं। इनतान मा गरीब मड़ई का कइ सकत हवैं। मानिकपुर सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र के अधीक्षक विनय कुमार का कहब हवै कि अगर एम्बुलेंस का ड्राइवर रूपिया लिहिस हवै तौ रंची के रूपिया ड्राइवर से देवावा जई।