सेरेना और फेडरर बने ऑस्ट्रेलियन ओपन चैंपियन

साभार: विकिपीडिया

ऑस्ट्रेलियन ओपन के सिंगल फाइनल्स में सेरेना विलियम्स ने अपनी बहन वीनस विलियम्स को 6-4, 6-4 से हराकर खिताब जीत लिया है। सेरेना विलियम्स का ये सातवां ऑस्ट्रेलियन ओपन खिताब और 23वां ग्रैंड स्लैम खिताब है। इस जीत के साथ ही सेरेना फिर से नंबर एक महिला खिलाड़ी भी बन गई हैं। सेरेना का 30 की उम्र पार करने के बाद ये 10वां ग्रैंड स्लैम खिताब है।
ऑस्ट्रेलिन ओपन के फाइनल में विलियम्स के बहनों के होने की वजह से इस मुकाबले पर सभी की निगाहें थीं। मैच में छोटी बहन सेरेना ने वीनस को कोई मौका नहीं दिया और उन्हें हराकर खिताब अपने नाम कर लिया।
इससे पहले सेमीफाइनल मुकाबलों में सेरेना ने मिरजाना लुसिच-बारोनी को 6-2, 6-1 से हराया जबकि वीनस ने अमेरिका की कोको वांदेवेघे को 6-7, 6-2, 6-3 से मात दी थी।
विलियम्स बहनें अभी तक 28 बार आपस में भिड़ चुकी हैं। जिसमें सेरेना ने 16 बार जीत हासिल की जबकि वीनस ने 11 बार सेरेना को हराया है। ग्रैंड स्लैम के फाइनल में भी सेरेना ही वीनस से जीत के रिकॉर्ड में आगे रही हैं। दोनों के बीच अभी तक 8 बार ग्रैंड स्लैम का फाइनल मैच हुआ है जिसमें सेरेना ने छह जबकि वीनस ने दो जीते हैं।
ऑस्ट्रेलियन ओपन के फाइनल में सात साल बाद दोनों बहनें आमने-सामने आईं, इससे पहले 2009 में विंबलडन के फाइनल में सेरेना ने वीनस को हरा कर खिताब जीता था।

साभार: विकिपीडिया

वहीँ पुरुषों के मुकाबले में विश्व के महानतम टेनिस खिलाड़ियो में शुमार स्विट्जरलैंड के रोजर फेडरर, तीन ग्रैंड स्लैम टूर्नामेंट को पांच या पांच से अधिक बार जीतने वाले पहले टेनिस खिलाड़ी बन गए। फेडरर ने मेलबर्न पार्क के रॉड लेवर एरेना में खेले गए खिताबी मुकाबले में स्पेन के राफेल नडाल को 6-4, 3-6, 6-1, 3-6, 6-4 से मात दी। मेलबर्न में हो रहे इस टूर्नामेंट में पांचवीं बार खिताबी जीत दर्ज की। मुकाबला तीन घंटे 37 मिनट चला। नडाल अपना 15वां ग्रैंड स्लैम खिताब जीतने से चूक गए।
फेडरर ने पांच साल के अंतराल के बाद कोई ग्रैंड स्लैम जीता है। पिछली बार उन्होंने 2012 में विंबलडन खिताब अपने नाम किया था। फेडरर ने इससे पहले 2010 में ऑस्ट्रेलियन ओपन खिताब जीता था।