सूखे के बाद हत्यारा बना साहूकार!

sampadkiyललितपुर। बुंदेलखंड के सूखे ने किसानों को आत्महत्या करने को मजबूर कर दिया है। इस सूखे की भेंट चढ़े बानपुर थाना के ग्राम खिरिया छतारा में किसान ने साहूकार से त्रस्त होकर फांसी लगा ली।
ग्राम खिरिया छतारा निवासी सुजान यादव के पिता गोरेलाल ने करीब आठ वर्ष पहले साहूकार से बीस हजार रुपये कर्ज लिया था। जब यह कर्ज नहीं चुका पाए तब साहूकार ने जमीन पर कब्जा कर लिया और गोरेलाल को आठ बोरा फसल देने के नाम पर खेत ठेका पर दे दिया। गोरेलाल की मौत के बाद यह सब उसके पुत्र यानी सुजान पर आ गया।
पिछले दिनों साहूकार ने खेत पर जाने से सुजान को मना कर दिया। खेत जाने पर रोक के बाद उसके आगे परिवार के भरण-पोषण का संकट खड़ा हो गया। इसी चिंता में सुजान ने खेत पर जाकर आम के पेड़ से फांसी का फंदा बनाकर आत्महत्या कर ली।
देर शाम परिजनों को घटना की जानकारी हुई, तो हड़कंप मच गया। सूचना मिलने पर मौके पर पहुंची पुलिस ने शव का पंचनामा भरकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।