सुविधा रहईत, लाभ न मिलल

कालाजर बिमारी से मुक्त मरीज
कालाजर बिमारी से मुक्त मरीज

जिला सीतामढ़ी, प्रखण्ड रीगा,पंचायत अन्हारी, गांव मुशहरी टोल। उहां 2010 अउर 2011 में लगभग पच्चास लोग कालाजर से पिडि़त रहथिन। उनका सब के संतुलित भोजन के लेल चैदह सौ रूपईया मिलई छई। जेई के राह लोग अभी तक देखई छथिन।
उहां के रमेश सदा, अरूण सदा लगभग पच्चीसो लोग कहलथिन कि इहां 2009 में कालाजर बिमारी भेलई। ओई समय एको गो घर न छुटल रहई। एक घर में पांच छौ आदमी बिमार रहथिन। 2009 से 2013 तक प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र से डाॅक्टर आके इलाज करईत रहलथिन। अब सब के बिमारी छूट गेल हई। संतुलित भोजन के लेल सरकार चैदह सौ रूपईया देई छथिन। दिनेश माझी, कमली देवी, लगभग पांच लोग के मिलल हई। बाकी लोग के अभी ले न मिलल हई।
स्वास्थ्य प्रबंधक प्रशांत कुमार कहलथिन कि उहां के कालाजर मरीज के नाम से रूपईया आ गेल हई। मरीज के नाम से बैंक में खाता न रहे के कारण चेक न कटई छी। सब खाता खोलवा के खाता नम्बर स्वास्थ्य प्रबंधक के पास जमा करथिन तब उनका सब के चेक द्वारा रूपईया भुगतान कयल जतई।
जिला चिकित्सा पदाधिकारी डाॅक्टर अरबिन्द कुमार गुप्ता कहलथिन कि कालाजर मरीज के संतुलित भोजन के रूपईया प्रखण्ड में भेज देल गेलई।