सुनंदा पुष्‍कर मामले में आरोपी शशि थरूर ने दी सफाई, लिखा पत्र

साभार: सुनंधा पुष्कर/ट्विटर

सुनंदा पुष्कर की मौत मामले में दिल्ली पुलिस की चार्जशीट में आरोपी बनाए गए कांग्रेस के वरिष्ठ नेता शशि थरूर की मुश्किलें बढ़ने जा रही हैं।
दिल्ली की पटियाला हाउस कोर्ट ने 5 जून को सुनवाई के दौरान शशि थरूर को 7 जुलाई को पेश होने का आदेश दिया है। बता दें कि दिल्ली पुलिस ने अपनी चार्जशीट में सुनंदा पुष्कर के पति शशि थरूर को खुदकुशी के लिए उकसाने का आरोपी माना है।
इसी के जवाब में शशि थरूर ने सुनंदा पुष्कर मौत के मामले में उन पर लगाए जा रहे आरोपों को बेबुनियाद और आधारहीन बताए हैं। थरूर ने अपनी सफाई में एक पत्र जारी किया है।
इसमें उन्होंने कहा, ‘मुझ पर जो आरोप लगए गए हैं, वो ऊटपटांग और आधारहीन हैं। मेरे खिलाफ द्वेषपूर्ण और बदला लेने के उद्देश्य से अभियान चलाया जा रहा है
इस मामले की अगली सुनवाई सात जुलाई को है। इस दिन शशि थरूर को आरोपी मानते हुए समन भेजा गया है और पेश होने के लिए कहा है।
बता दें कि पिछले महीने 14 मई को बहुचर्चित सुनंदा पुष्कर मौत मामले में सवा चार साल बाद विशेष जांच दल (एसआइटी) ने पटियाला हाउस कोर्ट में अंतिम रिपोर्ट दाखिल कर दी थी। इस चार्जशीट में सुनंदा के पति पूर्व केंद्रीय मंत्री शशि थरूर की भूमिका को संदिग्ध माना था।
गौरतलब है कि पूर्व केंद्रीय मंत्री कांग्रेस के वरिष्ठ नेता शशि थरूर की पत्नी सुनंदा की 17 जनवरी 2014 को चाणक्यपुरी स्थित पांच सितारा होटल लीला पैलेस के सुइट नंबर 345 में संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई थी।