सीरिया हमले के दौरान, फोटोग्राफर ने कैमरा छोड़ घायल बच्चे को बचाया

साभार: विकिमीडिया कॉमन्स

सीरिया देश में सालों से अंदरूनी जंग छिड़ी हुई है। रोज़ ही अखबारो में विस्फोट, और लोगों की मौत की खबरे पढने को मिलती हैं। ऐसे में, जब वहां से एक अच्छी खबर आती है, तो कुछ सुकून मिलता है। ऐसी ही एक खबर हाल ही में आई थी, जिसने दर्शाया कि इंसानियत आखिर सबसे बड़े चीज़ है।     

हमले के बीच एक फोटोग्राफर ने अपनी जान की बाज़ी लगा कर एक बच्चे को हमले से बचाया। अब्द अल्कादेर हबक नामक एक फोटोग्राफर ने धमाके के समय तस्वीर लेने के बजाय घायल बच्चे की जान बचाना जरूरी समझा।

विस्फोट के बाद, उन्होंने घायल लोगों की मदद करना शुरू कर दिया, और मृत शरीरों में एक जीवित लड़का पाया, जिसको वो तुरंत सहायता के लिए ले गया।