सीएम योगी आदित्यनाथ ने किया दावा, बेहतरीन कानून व्यवस्था मामले में यूपी चुनिंदा राज्यों में से एक

साभार: विकिपीडिया

यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ ने दावा किया है कि देश में सबसे अच्छी कानून व्यवस्था मामले में यूपी चुनिंदा राज्यों में से एक है।

उन्होंने कहा कि प्रदेश में कानून व्यवस्था पिछले 15 सालों में सबसे बेहतर है। क्राइम रिकॉर्ड के मामले में पिछली सरकार से कम है। पिछली सरकारों में हत्या-बलात्कार की रिपोर्ट दर्ज नही होती थी हमारी सरकार में हर एफआईआर दर्ज करने के आदेश दिए गए।

योगी ने दावा करते हुए कहा कि पिछले ढे़ड़ साल के शासन में प्रदेश की कानून व्यवस्था बेहतर हुई है। इसका प्रमाण इन्वेस्टर्स समिट(निवेशकों की भीड़) से होता है। शीघ्र ही 50 हजार करोड़ निवेश की शुरुआत हम और कर रहे हैं।

उन्होंने कहा कि हमारी सरकार ने देवरिया मामले में सख्त कार्रवाई की। जिस अधिकारी ने थोड़ी भी लापरवाही बरती उस पर कड़ी कार्रवाई की गई है। इस मामले में हमने सीबीआई जांच की सिफारिश की। एसपी स्तर की 3 सदस्यीय महिला टीम इस मामले में निगरानी कर रही है।

योगी ने कहा कि सूबे में अब तक का सबसे बड़ा बजट पेश किया गया है। बजट का बड़ा हिस्सा खर्च हो चुका। अटल जी के नाम पर मेडिकल कॉलेज की स्थापना, बलरामपुर अस्पताल और केजीएमयू में सैटेलाइट सेंटर। डीएवी कॉलेज में सेंटर ऑफ एक्सीलेंस के लिए बजट दिया गया है।

उत्तर प्रदेश सरकार ने किसानों की कर्ज माफी की अंतिम किस्त जारी की। योगी ने कहा कि हमारी सरकार ने बड़े विकास के काम किए हैं। प्रदेश में पर्व, त्यौहार शांति पूर्ण तरीके से हो सकते हैं, इसे हमने करके दिखाया है। आज शांतिपूर्व ढंग से सम्पन्न हो रहे। प्रदेश में निवेश आ रहा। सूबे में आपराधिक तत्वों को रोकने का काम सख्ती से किया गया है। सरकार जनता की सेवा के लिए कटिबद्ध है।