सिपाही ने में चोर को गोली मारी, फिर खून देकर जान बचाई

 

साभार: विकिमीडिया कॉमन्स

दिल्ली पुलिस के जवान अशोक कुमार ने एक चोर पर गोलियां चलाई और जब वो घायल हो गया और मौत से जूझने लगा, तो अपना खून देकर उसकी जान भी बचाई।

मामला रोहिणी के सैक्टर नौ का है जहां अहिंसा विहार में रहने वाले एक शख्स ने फोन कर पुलिस को बताया कि चोर उनके घर में घुसे हुए हैं। सुबह के करीब चार बजे थे जब पुलिस वहां पहुंची और उनको देख चोरों ने दीवार फांदकर भागने की कोशिश की। पुलिस ने जब गोलियां चलायी तो एक चोर नितिन को पैर में पांच गोली लगी जबकि उसका साथी सलमान मौके से फरार हो गया।

पुलिसकर्मी नितिन को लेकर अंबेड़कर अस्पताल पहुंचे जहां डॉक्टरों ने बताया कि अगर उसे खून नहीं मिला तो वो मर जाएगा। तब कॉन्सटेबल अशोक ने नितिन को खून दिया, क्यूंकि उसे खून की और जरूरत थी तो स्टेशन ऑफिसर एस एस राठी और कॉन्सटेबल राजेश ने भी चोर को खून दिया। इस वजह से नितिन खतरे से बाहर हुआ। पुलिस अफसरों का कहना था की चोर पर गोली मारना उनके काम का हिस्सा था, और उसको खून देना इंसानियत नाते बनता था।