साला खड़ूस में नहीं खड़ूसियत

sala khadus copyफिल्म – साला खड़ूस
कलाकार – आर माधवन, ऋतिका सिंह, मुमताज़ सरकार, ज़ाकिर हुसैन।
निर्देशक- सुधा कोंगरावैसे तो समय-समय पर खेलों से जुड़ी हुई फिल्में बनती रहती हैं। इससे पहले भी प्रियंका चोपड़ा की मैरीकाॅम और शाहरूख खान की चक दे इण्डिया जैसी फिल्में नज़र आ चुकी हैं। खेलो से ही जुड़ी हुई ये फिल्म है साला खड़ूस। जो बाॅक्सिंग पर आधारित है, तो आइए जानते हैं क्या है फिल्म की कहानी।
फिल्म शुरू होती है आर माधवन से जो बाॅक्सिंग ट्रेनर हैं। उनके ऊपर इल्ज़ाम लगाया जाता है कि वो अच्छी बाॅक्सिंग नहीं सीखा रहे हैं। और लड़कियों के साथ बदतमीज़ी भी कर रहे हैं। माधवन को एक ऐसी लड़की की तलाश है जो अच्छी बाॅक्सिंग कर सके और उनके नाम पर लगा धब्बा मिटा सके। इसी बीच माधवन को हरियाणा भेज दिया जाता है, जहां पर उनकी मुलाकात मछली बेचने वाली एक लड़की ऋतिका सिंह से होती है। ऋतिका बचपन से ही बाॅक्सिंग खिलाड़ी मोहम्मद अली की फैन है तो उसको बाॅक्सिंग के बारे में कुछ चीजें पता हैं। माधवन को लग रहा है कि अब उसका सपना पूरा हो जाएगा। क्या माधवन का सपना पूरा होगा? क्या माधवन के ऊपर लगे हुए आरोप हट जाएंगे। क्या माधवन ऋतिका को एक बाॅक्सर बना पाएंगे या इन दोनों की ही बाॅक्सिंग शुरू होगी। इन सभी सवालों के जवाब के लिए आपको साला खड़ूस तो कम से कम एक बार देखनी होगी।
आइए अब बात करते हैं फिल्म के कलाकारों की। जिस हिसाब से इस फिलम का नाम साला खड़ूस रखा गया है ज़्यादा खड़ूसियत है नहीं। माधवन अपने रोमांटिक अंदाज़ से निकल नहीं पाए हैं लेकिन काम उनका अच्छा है। रियल लाइफ की बाॅक्सर ऋतिका ने बेहतरीन अभिनय किया है। बाकि सभी कलाकारों का काम उम्दा है।