हर परिवार की बुनियादी जरूरतों में सबसे पहले आता है। लेकिन यहाँ तो बना ही नहीं देखिये और जानिये

जिला चित्रकूट, ब्लाक मानिकपुर, गांव रैपुरा के बोड़ी पोखरी चौराहा मा दस साल पहिले शौचालय बनावा गा रहै पै यहिकर ताला आज तक नहीं खुला आय चौराहा मा रोज हजारन मड़ई आवत हवै काहे से हिंया तीन बसअड्डा इलाहाबाद मानिकपुर अउर राजापुर हवै शौच खातिर मड़ई हिंया हुंवा भटकत हवै सरकार स्वच्छ भारत करै का कहत तौ हवै पै बसअड्डा जइसे जघा मा शौचालय होय के बादौवहिमा ताला लाग हवै
कल्लू प्रसाद बताइस कि हिंया का शौचालय गिरे के कगार मा हवै अउर पानी के भी व्यवस्था नहीं आय सन्तोषिया देवी बताइस कि शौचालय बंद होय से हमें घरन के पीछे शौच खातिर जायें का पड़त हवै काहे से फेर पेट फुले लागत हवै
वीरू बताइस कि मैं हिंया चार साल से रहत हौं पै शौचालय बंद पड़ा हवै मजबूरी मा मड़इन का बहुतै दूरी खेत मा जायें का पड़त हवै
प्रधान कृष्णा देवी का लड़का अनिल कुमार बताइस कि पानी की व्यवस्था न होय के कारन शौचालय मा ताला लाग हवै पूर्व प्रधान नींकतान शौचालय नहीं बनवाइस रहै यहै कारन टूट गा हवै
वीडीओ आशाराम सिंह का कहब हवै कि शौचालय मा ताला लागे के सूचना नहीं आय।प्रधान से कहि के जांच कराई जई फेर कारवाही होइ।

बाइलाइन-सहोद्रा

Published on Nov 17, 2017