सामाजिक सहमति के द्वारा अपराध डायन हत्या – रूपम सिन्हा (झारखंड)

Picture1रूपम सिन्हा झारखंड में कई सालों से पत्रकारिता कर रही हैं। मौजूदा समय में सहारा न्यूज़ चैनल के लिए झारखंड से खबरें कवर करती हैं। अंधविश्वास की आड़ में महिलाओं पर हो रही हिंसा और नक्सलवाद से जुड़ी कई खबरें इन्होंने कवर की हैं। डायन हत्या पर रिपोर्ट की गई एक खबर के कुछ अंश और फोटो।

आज भी कई ऐसे ग्रामीण इलाके हैं, जहां विधवा और अकेली औरतों को डायन कहकर उन पर हिंसा की जाती है। कई औरतों की जान भी ली जा चुकी है।

डायन हत्या के आंकड़े – 1991 से 2000 मार्च तक
डायन के नाम पर औरतों की की गई हत्या – उत्तर दक्षिण छोटानागपुर, पुलिस महानिरीक्षक, रांची कुल हत्या – 522