साध्वी प्राची-संजीव बलियान पर दर्ज केस वापस लेगी योगी सरकार

साल 2013 में मुजफ्फरनगर और शामली में हुए सांप्रदायिक तनाव के 131 केस वापस लेने के लिए योगी सरकार प्रयास करने जा रही है।
एक अंग्रेजी अखबार के अनुसार, योगी सरकार अब साध्वी प्राची, संजीव बलियान सहित दो बीजेपी सांसदों और तीन विधायकों पर दर्ज हेट स्पीच और क्रिमिनल चार्ज के मामले को वापस लेने की तैयारी कर रही है।
इसमें साल 2013 में मुजफ्फरनगर में सांप्रदायिक तनाव फैलने से पहले हुए महापंचायत में दिए गए हेट स्पीच, जिससे हिंसा बढ़ गई थी के भी मामले में दर्ज केस को वापस लेने की तैयारी हो रही है। साध्वी प्राची, बिजनौर से बीजेपी सांसद कुंवर भरतेंद्र सिंह, मुजफ्फरनगर से संजीव बलियान, बीजेपी विधायक उमेश मलिक, संगीत सोम और सुरेश राणा के नाम शामिल हैं, जो महापंचायत में शामिल हुए थे।
बता दें कि संजीव बलियान सितंबर 2017 तक केंद्रीयमंत्री थे। वहीं, सुरेश राणा यूपी सरकार में मंत्री हैं। मलिक मुजफ्फरनगर के बधाना से विधायक हैं। राणा शामली के थाना भवन सीट से जीतकर आए हैं और संगीत सोम मेरठ सरधना सीट से चुनकर आए हैं।