ससुराल वाले के प्रताड़ना से किराये के घर मा रहत मेहरारु

mahila mudda final 2 copyजिला फैजाबाद, मोहल्ला लालबाग। हिंआ एक दलित मेहरारु के ससुराल वाले घर मा रखत नाय बाटिन। किराये के घरमा रहै वाली मेहरारु कइयौ जगह अप्लीकेशन भी दिहिन लकिन कहूं सुनवाई नाय भै।
मेहरारु पूर्णिमा बताइन कि हमार मायका बस्ती आय। हमरे शादी का एक साल होइगै। हमार पति खुद पसंद कइके शादी करे रहे। अब उनके घरवाले हमैं दलित महिला कहिके घरसे निकार दिहिन। हम किराये के घरमा रहत हई। मेहरारु गर्भवती बाय ससुराल वाले घरमा नाय रहै दियत हइन। जइसे घरे जाईथी ससुराल वाले मारपीट के निकार दियाथिन। हम चैकी थाना डीएम एस.पी., सी.ओ. जैसेन अधिकारिन का आपन समस्या बतायन अउर अप्लीकेशन दिहन लकिन कउनौ सुनवाई नाय भै। मेहरारु कै आरोप बाय कि लेठ बनारस मा सरकारी नौकरी कराथिन उनकै ज्यादा पहिचान बाय यही से कउनौ सुनवाई नाय हुवत बाय।
पति कुमार गौरव बताइन कि हम अपने मन से शादी करे रहेन। तब हमार पिता ली रहे अब नाय बाटे। हमार भइया भाभी हमरे पत्नी का घरमा नाय रहै देतिन। कहाथिन तू रहा लकिन तोहार मेहरारु नाय रहि सकति।
फतेहगंज चैकी कै पुलिस बताइन कि इनकै आपसी विवाद कै मामला बाय। एकै जांच करावा जात बाय।