सरकार नहीं दे रही है ध्यान, महोबा जिले के लामौरा गाँव में पानी की विकट समस्या से है जनता परेशान

महोबा जिले के जैतपुर गांव, थाना कुलपहाड़ में दहेज के कारण पूनम की मौत 26 मार्च 2018 को हो गई है। मायके वालों का आरोप है कि लड़की को मारने के बाद फांसी पर लटका दिया है, तो वहीं ससुराल पक्ष कोई सही बात नहीं बता रहें हैं।
पूनम के चाचा हरिप्रसाद का कहना है कि ससुराल वाले धमकी देते थे कि पैसा नहीं मिलेगा तो बेटी को नहीं रखेगें। दोपहर को मारा है और हमें शाम को सूचना दी है। भाई पुष्पेन्द्र का कहना है कि जेठानी के लड़के ने गलत काम करने की कोशिश की, जब सफल नहीं हो पाया तो मार डाला है। बहन ने बताया कि जेठ-जेठानी मारपीट करते थे और जेठ गन्दी-गन्दी गाली देता था।
पूनम के पति शेर सिंह का कहना है कि भाभी से सात-आठ दिन पहले लड़ाई हुई थी। हम दहेज की मांग नहीं करते थे।
सीओ वंश नारायण का कहना है कि पूनम की शादी 2012 में सामूहिक विवाह कार्यक्रम में हुई थी। पति जेठ-जेठानी और उनके लड़के के खिलाफ मुकदमा लिख गया है और जांच के बाद कार्यवाही की जायेगी।

रिपोर्टर- श्यामकली

Published on Mar 29, 2018