सरकार कै योजना खोखला सावित होत बाय

पूरे उत्तर प्रदेश मा सरकार गांव के विकास खातिर लोहिया समग्र ग्राम घोषित कई दई थै। ताकी अब से गांव कै विकास होई सकै लोहिया गांव मा सब तरह कै सुविधा देथै आर सी. सी. रोड गांव मा बिजली पानी कै सुविधा घरे घरे शौचालय बनै।
जवन ज्यादा गरीब हईन उनका लोहिया आवास या इन्द्रा आवास दई कै पक्का घर मा रहै कै अधिकार दिया गै बाय। लकिन सरकार काव करै ओ तौ योजना पास कई देथै। लकिन गांव के मनईन तक योजना कै लाभ पहुंचै मा आधा अधूरा होई जाथै। जइसै कि जिला के लोहिया गांव मा देखै जाए तौ आधे गांव मा आर. सी. सी. रोड शौचालय भी आधा अधूरा कउनौ मा सीट नाय तौ दरवाजा तौ कउनौ मा टंकी नाय ई हाल बाय लोहिया गांव कै।
जइसै अम्बेडकरनगर जिला के कटेहरी ब्लाक के बीबीपुर रण्डौली गांव मा सन 2014-15 मा 198 शौचालय बना बाय। घरे घरे शौचालय बनै के बाद भी मनई बहरे खुले मा शौच करै काहे जाय का मजबूर हईन? यहि से साबित होत बाय कि स्वच्छ भारत अभियान कै काम बाय। ए. डी. ओ. पंचायत से षिकायत करे के बाद बस जांच कै आष्वासन दई कै रह जाथिन। ई सब योजना के घोटाला मा सरकारी कर्मचारियन से लई कै ग्राम प्रधान कै हाथ रहा थै। ऐकर मार गरीब मनईन का झेलै का परत बाय। आखिर ई भ्रष्टाचार घोटाला कब तक चले यकरी खातिर सरकार अलग से कउनौ योजना काहे नाय बनावत?