सरकारी स्‍कूलों के बच्‍चे अब सीखेंगे विदेशी भाषा

साभार: विकिमीडिया कॉमन्स

राष्ट्रीय माध्यमिक शिक्षा अभियान के अंतर्गत सरकारी विद्यालयों में पढ़ने वाले कक्षा 9 और 10 के छात्र-छात्राओं को फ्रेंच,जापानी और जर्मन भाषा पढ़ाई जाएगी। इसके लिए प्रदेश के 7 जिलों के 50 विद्यालयों का चयन कर लिया गया है।

सरकारी स्कूल-कॉलेजों में ऐसा पहली बार होगा, जब छात्र-छात्राओं को विदेशी भाषाएं पढ़ाई जाएगी। इसके पहले साल इस योजना में कक्षा 9 के छात्र-छात्राओं को शामिल किया गया है। प्रत्येक विदेशी भाषा के एक बैच में 25 छात्र-छात्राएं होंगे।

सभी चयनित कॉलेजों को निर्देश दिए गए हैं कि वह अपने यहां पढ़ाने के लिए चार में से कोई दो भाषाएं चुन लें। अगस्त से कॉलेजों में इसके बैच शुरू करने की तैयारी है। छात्रों को पढ़ाने के लिए 10 हजार रुपये मानदेय पर विभिन्न भाषाओं के इंस्ट्रक्टर रखे जाएंगे। छात्रों को पढ़ाने के लिए स्मार्ट क्लासेज का भी इस्तेमाल किया जाएगा।

प्रदेश के 7 जिलों के 50 विद्यालयों को किया गया चयन लखनऊ, गोरखपुर, वाराणसी, आगरा, इलाहाबाद, गाजियाबाद और मथुरा के विद्यालय चिन्हित लखनऊ में 8 राजकीय कॉलेजों का चयन किया गया है तीन महीने का होगा फ्रेंच, जापानी, स्पेनिश और जर्मन भाषा का कोर्स कक्षा 9 और 10 के स्टूडेंट्स पढ़ेंगे।