सरकारी स्कूल के बच्चे पढ़ेंगे बाबा गोरखनाथ की जीवनी

यूपी के सरकारी स्कूलों में पढ़ाई जाने वाली एक किताब में अब मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के गुरु बाबा गोरखनाथ की जीवनी पर एक पाठ शामिल किया गया है।
जुलाई से शुरू हो रहे नए सत्र से यह किताब सरकारी स्कूलों में पढ़ाई जाएगी। किताब में नाथ संप्रदाय के बाबा गोरखनाथ के अलावा बाबा गंभीरनाथ भी पढ़ाए जाएंगे। साथ ही स्वतंत्रता संग्राम सेनानी बंधु सिंह और रानी अवंती बाई सहित बुंदेलखंड के योद्धा भाई अल्हा और ऊदल को भी इस किताब में जगह दी गई है।
योगी आदित्यनाथ के मुख्यमंत्री बनने के बाद ही इन महान व्यक्तित्व की विभूतियों को किताब के चैप्टर में शामिल करने के लिए बेसिक शिक्षा विभाग को निर्देश दिए गए थे।
नए सत्र से पढ़ाया जाने वाला पाठ्यक्रम कक्षा 1 से लेकर 8 तक फिर से बनाया गया है। गोरखनाथ का पाठ कक्षा 6 में शामिल किया गया है। इस किताब का शीषर्क है- ‘महान व्यक्तित्व’। इसी तरह दूसरे पाठ गंभीरनाथ, बंधु सिंह, अवंती बाई, वीर अल्हा, कक्षा 1 से 8 तक की अलग-अलग कक्षाओं में पढ़ाए जाएंगे।
शिक्षा विभाग के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि महान विभूतियों को स्कूल पाठ्यक्रम में इसलिए शामिल किया गया है, क्योंकि ये चर्चित नहीं हैं और नई पीढ़ी को उनके बारे में बताने की जरूरत है।