समाजवादी पार्टी का पारिवारिक दंगल – क्या होगा पार्टी का?

जिला बांदा, कस्बा बांदा के समाजवादी पार्टी मा या समय परिवारिक दंगल शुरू हैं। बाप बेटा के बीच अबै भी कउनौ सुलह समझउता नही भा आय यहिसे समाजवादी पार्टी बहुतै निराश हैं। आवै वाले समय मा पता चली कि साइकिल आगे चलत है या सपा पार्टी के कीचड़ मा कमल खिलत हैं।
समाजवादी पार्टी के परिवारिक दंगल के बारे मा बांदा के जिलाध्यक्ष शमीम बांदवी का कहब है कि पार्टी का जितावै मा कउनौ तरीका से सुलह होइ जाये पार्टी के सबै कोउ यहै चाहत रहै।
पार्टी का जितावै मा नेता जी अउर मुख्यमंत्री बहुतै समझदारी से काम करिन हैं। आपस मा जउन कलह देखे का मिलत रहै वा अब एक साथ पार्टी का काम करे से नही देखे का मिली हैं। जमीनी स्तर मा हमार पार्टी का मान बढ़ा है अउर हमार पार्टी के छवि नींक हैं।
नेता जी अउर मुख्यमंत्री के आपसी मामला के कारन पार्टी टूटे के कगार मा आ गे रहै पै अब दुनौ के बीच सुलह जल्दी होइ जई ऊपर से लइ के नीचे तक पार्टी के सबै कार्यकर्ता बाप बेटा के आपसी घरेलू मामला से परेशान होइ गे रहै।
शमीम बांदवी आपन कविता मा कहत है कि अखिलेश मेरे देश का विकास करेगा अखिलेश से विकास की बदली है कहानी हर गांव में है बिजली, हर खेत में है पानी नेता मुलायम सिंह की पहचान बनेगा अखिलेश मेरे देश का विकास करेगा।

रिपोर्टर- मीरा देवी

06/01/2017 को प्रकाशित