सबसे अलग स्कूल, सरकारी स्कूलन से अच्छो

Mahoba Kabrai - Gahra Alternative School webजिला महोबा, ब्लाक कबरई, गांव गहरा। जा गांव में 1978 से सियाराम कुषवाहा पेड़ तरे स्कूल चलाउत हे, बच्चन खा अंग्रेजी मीडियम की पढ़ाई कराउत हे। पेड़ तरे पढ़े वाले बच्चन खा आज की तारीख में केऊ टीचर बने तो केऊ पुलिस की नौकरी करत हे। इस समय पेड़ के तरे पढ़े वाले बच्चन की संख्या 130 हे।

सियाराम कहत हे कि ऊखेे बच्चन के भविष्य की बोहतई चिन्ता रहत हे। काय से सरकारी स्कूलन में अच्छी पढ़ाई नईं होत हे। सब सुविधांए होंये के बाद भी टीचर अच्छी षिक्षा नई दे पाउत हे। मोये स्कूल में पढे़ वालो बच्चे कक्षा 1 का बच्चा गणित में भिन्न को सवाल लगा लेत अंग्रेजी में बात कर लेत हे। कक्षा पांचवी के केऊ बच्चे अंग्रेजी में भी बात कर लेत हे।

जब ऊसेे पूछो गओ कि स्कूल को मकान काय नई बनवाओ हे तो ऊने कहो कि केऊ बार षासन से मांग करी हे ओर केऊ नेताओं ने सहयोग देय के वादे करे हे पे इत्ते सालन से ऊ अपने बलबूते पे स्कूल चलाउत हे। बरसात ओर ठंडी के मौसम में ऊ इन बच्चन खा अपने घर में ही पढ़ाउत हे। ई स्कूल में भले ही इमारत, शौचालय, बाउंड्री की व्यवस्था नइयां, पे एते के टीचर होशियार हेे ओर बच्चे खुश हे।