सफाई न होने के कारन लोग परेशान

gao se khabar photo   EDsafayiजिला महोबा ब्लाक चरखारी गांव रिवई। ई गांव मे आठ महीना से सफाई नई भई हे। गन्दगी को भरमार हे। गन्दगी के कारन आदमी गर्मी मे द्वारे मे बेठे खा तरसत हे।
तिरिया कुशवाहा बताउत हे की ई मोहल्ला मे कभऊं सफाई कर्मी नईं आउत हे। हमाये द्धारे में दस-दस तसला गिलाव ओर कूड़ा निकरत हे। हवा ओर बाजार तक को कूड़ा ओर पानी एई नाली से बहत हे। जीसे ओर ज्यादा गन्दगी मवत हे। पनकुंवर कहत कहत हेइ कि हमाये एते की सफाई लगभग आठ महीना से नई भई हे। हमाये आस-पास के गांवन मे खूब प्रधान सफाई कराउत हे। आठ महीना हो गये आज तक सफाईकर्मी को चेहरा नई देखो हे। हम लोग अपने-अपने द्धारे की सफाई खुद करत करत हे। अगर एते आठ दिन सफाई द्धारे में न करन तो कूड़ा को ढेर लग जात हे। रास्ता से निकरत नई बनत हे। गनसिया कहत हो कि हम लोगन खा रात के निकरें में बोहतई परेशानी होत हे। कूढ़ा के मारे कछू दिखात भी नइयां। किते गड्ढा हे किते गिलाव हे। शाम से ही बोहतई मच्छर लगन लगत हे। जीसे द्वारे में नई बेठ पाउत हे।
प्रधान कमलेश को आदमी बृजभूषण कहत हे की गांव बड़ा हे। सफाई कर्मी एक हे जीसे पूरे गांव मे ऊ सफाई नई पाउत हे। मेने महोबा डी.पी.आर.ओ. मे दस दिन पेहले गओ हतो ओर सफाई कर्मी की मांग करी हे। पे अभे तक कोनऊ सुनवाई नइयां।

रिपोर्टर – सरोज सैनी