सफाई कर्मी धरिन धरना- ताजा खबर

image taajaचित्रकूट जिला। यहाँ के सफाई कर्मी 22 अप्रैल 2013 का कर्वी जिला पंचायत विभाग के लगे धरिन रहैं। धरना मा सफाई कर्मी संघ के अध्यक्ष राजकिशोर, समेत लगभग तीन सौ सफाई कर्मी शामिल रहै। धरना का उद्देश्य रहै कि सफाई कर्मिन का समय से वेतन दें अउर बोनस भी दीन जाये।
खम्भरियां गांव के विजय, पहाड़ी ब्लाक गांव अर्जुनपुर के अवधेश कुमार समेत पांच सफाई कर्मी का कहब हवै कि हमार वेतन समय से कत्तौ नहीं मिलत आय। वेतन नहीं मिलत यहै से भूंखे रहित हन। काहे से कि यहै एक काम हवै। अउर वेतन न मिलै से घर का खर्चा नींकतान से नहीं चलत आय। या कारन बच्चन के पढ़ाई नहीं होइ पावत हवै। काहे से बच्चा प्राइवेट स्कूल मा पढ़त हवै । हुंवा फीस लागत हवै। गांव मा सफाई करै रोज जइत हन, पै सरकार पेट मा लात़ मारै मा लाग हवै। सफाई कर्मिन का एरियल अउर बोनस एक करोड़ पच्चीस लाख रूपिया आवा रहै तौ जिला पंचायत राज विभाग वाले सरकार का 31 मार्च 2013 का लउटा दिहिन हवैं।
एक सफाई कर्मी का तीन बरस का बोनस तीस हजार रूपिया एरियल अउर बोनस होत हवै। हमार एरियल अउर बोनस मिलै। अबै तौ धरना धरे हन। अगर न मिली तौ मुख्यमंत्री अखिलेश सिंह यादव का फैक्स भेजा जई।
जिला पंचायत राज अधिकारी हरि सराय से बात करै के कोशिश कीन गे, पै उंई नहीं मिले। या कारन बाबू जगदीश वर्मा से बात कीन गे तौ उंई बताइन-“ एक बरस का आखिरी महीना मार्च होत हवै। यहै से रूपिया लउटा दीन गा हवै। जउन सफाई कर्मी का एरियल अउर बोनस होइ तौ वहिका दीन जई। यहिके जांच चलत हवै। सही जंाच होय के बाद एरियल अउर बोनस मिली। अपने से कुछौ नहीं करित हन। काहे से कि सरकार का जवाबदेही दें का परत हवै।”