सपा पार्टी के आंतरिक कलह को मुलायम ने किया खत्म!

akhilesh-mulayam-shivpal-yadav-wwwसपा में पिछले कई दिनों से आतंरिक घमासान छिड़ा हुआ है जिस पर मुखिया मुलायम सिंह यादव ने यह कहते हुए साफ़ कर दिया है कि ‘हम सब साथ हैं। मेरे रहते पार्टी में फूट नहीं हो सकती, हालांकि परिवार में कभी-कभी मतभेद हो जाता है।
इस पर अखिलेश यादव ने कहा कि पिता को खुश रखने के लिए सब कुछ करूंगा। बतौर सीएम , बतौर पुत्र मुझ पर जिम्मेदारी है। मैं पार्टी अध्यक्ष की बात का सम्मान करूंगा।
उधर, लखनऊ में शिवपाल यादव के घर के बाहर उनके समर्थकों ने जमकर प्रदर्शन किया था। समर्थकों ने ‘रामगोपाल यादव को बाहर करो’ के नारे लगाए। इस पर शिवपाल यादव ने अपने समर्थकों से कहा कि अपनी बात पार्टी कार्यालय जाकर नेताजी से कहें। हम सब नेताजी के साथ हैं। उनका संदेश ही हमारे लिए आदेश होगा।
गौरतलब है कि मुख्यमंत्री द्वारा गत 13 सितंबर को शिवपाल के करीबी अधिकारी माने जाने वाले मुख्य सचिव दीपक सिंघल को हटाए जाने के बाद अखिलेश और शिवपाल के बीच तनातनी बढ़ गई थीं। सिंघल को हटाए जाने के बाद सपा मुखिया मुलायम सिंह यादव के आदेश पर अखिलेश को समाजवादी पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष पद से हटाकर शिवपाल को यह जिम्मा सौंप दिया गया था। इसके चंद घंटों बाद ही अखिलेश ने शिवपाल से लोक निर्माण, राजस्व और सहकारिता जैसे महत्वपूर्ण विभाग छीन लिए थे।