संसद में आज तीन तलाक और जाधव जैसे मुद्दे चर्चा में मुख्य रहेंगे

संसद के शीतकालीन सत्र के दौरान आज कई अहम मुद्दे उठाए जायेंगे।  जिसमें तीन तलाक का मुद्दा सबसे बड़ा है।
इसके साथ ही आज विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने कुलभूषण जाधव के मुद्दे पर 11 बजे राज्यसभा में और 12 बजे लोकसभा में बयान देते हुए कहा, सुरक्षा के नाम पर परिवार के कपड़े तक उतरावा दिए गए।  जाधव की मां साड़ी पहनती है लेकिन उन्हें पहनने को सूट दिया गया।  सुषमा स्वराज ने कहा कि पत्नी के ही नहीं मां के भी बिंदी, चूड़ी और मंगलसूत्र उतरावाया था।  उन्होंने कहा कि  यह स्पष्ट रूप से आपसी समझ की भावना का उल्लंघन है।
आज तीन तलाक संबंधी विधेयक पेश होने को लेकर कांग्रेस का भी समर्थन मिल गया है। इस बिल को कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद लोकसभा में पेश करेंगे। संसदीय कार्यमंत्री अनंत कुमार ने सभी दलों से पार्टी लाइन से ऊपर उठकर इस बिल को पास कराने में सहयोग करने की अपील की है।
बीजेपी ने सांसदों की अनिवार्य हाज़िरी के लिए जारी किया।  व्हिपकेंद्रीय मंत्री अनंत हेगड़े के बयान पर कांग्रेस का विरोध जारी, संसद परिसर में गांधी मूर्ति के पास होगा प्रदर्शन।  दिल्ली में 2020 तक अवैध निर्माण पर नहीं होगी कार्रवाई, लोकसभा में स्पेशल प्रोविजन एक्ट बिल को मंजूरी।
बता दें कि 15 दिसंबर से 5 जनवरी तक चलने वाला यह सत्र मात्र 22 दिनों का होगा, जिसमें अगर छुट्टियों को हटा दें तो संसद सिर्फ 14 दिनों तक ही चलेगा। इस सत्र में सरकार कुल 14 बिल पेश कर सकती है।