संसद में अनुपस्थिति की आलोचना का सचिन ने दिया प्रेमपूर्वक जवाब, पूरा वेतन प्रधानमंत्री राहत कोष को दिया

साभार: ट्विटर

क्रिकेट के भगवान यानी सचिन तेंडुलकर ने राज्यसभा सांसद के रूप में अपना पूरा वेतन और भत्ते प्रधानमंत्री राहत कोष में दान कर दिया है।
बता दें कि सदन में उनका कार्यकाल हाल ही में समाप्त हुआ था। पिछले छह वर्षों में तेंदुलकर को वेतन के रूप में लगभग 90 लाख रुपये और अन्य मासिक भत्ते मिले थे।
प्रधानमंत्री कार्यालय ने भी आभार पत्र जारी किया है जिसमें लिखा गया है, ‘प्रधानमंत्री ने इस सहृदयता के लिए आभार व्यक्त किया है। यह योगदान संकटग्रस्त लोगों को सहायता पहुंचाने में बहुत मददगार होगा।
दरअसल, सचिन तेंदुलकर और अभिनेत्री रेखा को संसद में कम उपस्थिति को लेकर कई बार आलोचना झेलनी पड़ी थी।
हालांकि, तेंदुलकर ने सांसद निधि का अच्छा उपयोग किया था। उनके कार्यालय से जारी आंकड़ों में उन्होंने देश भर में 185 परियोजनाओं को मंजूरी देने तथा उन्हें आवंटित 30 करोड़ रुपये में से 7.4 करोड़ रुपये शिक्षा और ढांचागत विकास में खर्च करने का दावा किया है।
वहीं, सांसद आदर्श ग्राम योजना कार्यक्रम के तहत सचिन ने दो गांवों को भी गोद लिया जिनमें आंध्र प्रदेश का पुत्तम राजू केंद्रिगा और महाराष्ट्र का दोंजा गांव शामिल हैं।