शौचालय के मांग

पन्द्रह सौ रूपिया मा बनत शौचालय
पन्द्रह सौ रूपिया मा बनत शौचालय

जिला चित्रकूट, ब्लाक पहाड़ी, गांव कुचारम। हिंया के नथिया, पनुइया, कुनकू समेत सैकड़न लोगन का कहब हवै कि पूर्व प्रधान गुलाब के प्रधानी मा मड़इन के शौचालय पन्द्रह सौ रूपिया वाले बने रहैं। उंई शौचालय कउनौ काम के नहीं आय।
पनुइया अउर कुनकू का कहब हवै कि सरकार शौचालय बनवाइस रहै। हम एक दिन भी शौचालय मा टट्टी करैं नहीं गयेन। कत्तौ पन्द्रह सौ रूपिया मा शौचालय नींक बनत हवै। तीन सौ इंटा एक, बोरी सीमेन्ट मा शौचालय बन गा रहै। जउन कि नींक शौचालय बनवाये मा बीस हजार रूपिया लागत हवै। सरकार पन्द्रह सौ रूपिया का शौचालय बनवा के फोटो खिचवा के फाइल बनावत हवै उनसे या मतलब नहीं आय कि मड़ई के इस्तेमाल मा अइहैं कि नहीं।
प्रधान राजधर का भाई राजकरन का कहब हवै कि दुइ बरस पहिले दुइ सौ शौचालय के मांग कीन गे रहै। अबै तक पास नहीं भे आय।
पहाड़ी बी.डी.ओ. बेचनराम का कहब हवै कि लोहिया गांव मा शौचालय दीन जात हवै। पहाड़ी ब्लाक मा कुल आठ गांव लोहिया मा आवत हवंै। जउन मड़ई के मनरेगा का कार्ड बना होइ वहिका दस हजार का शौचालय दीन जई। पहिले प्राथमिकता लोहिया ग्राम पंचायत का दीन जई वहिके बाद मा बाकी गांव मा बनी।