शादियों के इस मौसम में कानपूर के बताशे वाले पहुंचे ललितपुर

ललितपुर, शादियों का मौसम शुरू हो चूका है। ऐसे में पूरा बाजार शादी-ब्याह के सामानों और खान-पान की वस्तुओं से भरा हुआ है। शादियों में जितनी रस्में उतनी ही देने-लेने की रवायतें। शादियों की हर रस्म बतासों के बिना अधूरी मानी जाती हैं। मीठे का शगुन हो या बारातियों का मुंह मीठा कराना हो, बतासों का होना तो जरुरी ही है।
ऐसे में ललितपुर की शादियों में बतासे बनाने के लिए कानपुर के बतासे बनाने वालों ने बाजारों में अपनी धूम मचाई हुई है। कानपुर मंडी बतासों के लिए प्रसिद्द मानी जाती है वहीँ से बतासे बनाना सीखे दिनेश ने बताया, एक बाल्टी पानी में पचास किलो चीनी लेकर घोल तैयार किया जाता है और उसी को हाथों की मदद से और सांचे की सहायता से बाँट-बाँट कर बतासे बनाए जाते हैं। इसका सभी सामान हम कानपुर से ही लाये हैं।
वहीँ उनके साथी माहजीर ने बताया, महीना भर में दस-पांच हजार कमा लेते हैं और बीस या पंद्रह किलो बतासे सात सौ या आठ सौ में बेची जाती है।

रिपोर्टर- सुषमा

09/02/2017 को प्रकाशित