शहर का खुला नाला गुज़रता है बाँदा ज़िले के मोहल्ला मर्दननाका से

जिला बांदा, कस्बा बांदा, मुहल्ला मर्दननाका शहर का नाला या मुहल्ला से गुजरत हैं। या मुहल्ला मा दलित जाति के मड़ई रहत हैं। यहै कारन हेंया के सफाई नहीं होत आय। कइयौ दरकी दरखास दे के बाद भी अधिकारी आश्वसन बस देत रहैं। वनांगना संस्था के मदद से अब नाला का काम चालू हैं।
मुहल्ला मा रहैं वाली बीनू अउर सुशीला बताइस कि बरसात के महीना मा हमार घरन के भीतर नाला का पानी आ जात है। जेहिसे हमे बहुतै परेशानी होत है। मुहल्ला मा मड़ई खुले टट्टिघर बनवाएं है जउन रास्ता मा गिरत हैं। मड़इन से पाइप डलवावै का कहा जात है पै उंई पाइप नहीं डलवावत आहीं। नवरात्र मा भी इनतान के गन्दगी से होइ के मड़ई निकलै का मजबूर है।
अधिकारी अउर नेता से कइयौ दरकी कहा हन पै उंई ध्यान नही देत है आकाश कुमार,संजू अउर जीतू का कहब है कि खुला नाला कचड़ा से भरा पड़ा है। हम दलित जाति के मड़ई हेंया रहित हन,तौ यहै कारन हेंया सफाई नहीं होत हैं। अधिकारी चाहत हैं हम आपन मुहल्ला के खुदै सफाई करें। हम सफाई कर्मचारी है सरकार हमें हमार मुहल्ला मा लगावै तौ हम सफाई करबै।
डी.एम. सी.से लइ के जाने केत्ते अधिकारी आ चुके हैं। पै सब आश्वसन दइ के लउत जात हैं। वनांगना कार्यकर्ता शबीना मुमताज का कहब है कि हमार कोशिश करै के बाद अब नाला के सफाई होत हैं । पहिले टेंडर का काम शुरू होइगा हैं। अब नाला के सफाई कइके गहरा बनावत हैं।

रिपोर्टर- मीरा देवी

Published on Feb 3, 2017