शमशान को भी घर बनाने उतरे बाँदा जिले में शिव गाँव के लोग

बाँदा जिले के शिव गाँव के लोगों ने बीते दिन तहसील में जा कर धरना प्रदर्शन किया। मौके पर पहुंची खबर लहरिया की रिपोर्टर गीता ने वहां मौजूद लोगों से बात की और पूरा मामला जाना।
शिव गाँव के लोग अपने ही गाँव के एक दबंग द्वारा मरघट और जानवरों को बांधे जाने वाली जमीन पर कब्जा किये बैठे हैं जिसके विरोध में तहसील पर सभी गाँववासी एकत्र हो कर विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं।
गाँववासी सुमित्रा का कहना है कि वो दबंग है और किसी को भी मरघट में आने नहीं देता और तीन से लगातार जो भी अधिकारी वहां जाता है वो उसको पैसा खिला देता है जिसक बाद अधिकारी भी चुप बैठ जाता है। हम जब भी मरघट किसी को दफनाने जाते हैं तो वो मना कर देता है लेकिन जब पुलिस बुलाई जाती है तब वो मरघट में घुसने देता है।
कामता प्रसाद का कहना है कि उसने जमीन पर एक मकान भी बना लिया है और इंटों से बटाई भी कर रहा है। उसने सभी को पैसा खिला रखा है।
धरना प्रदर्शन की अगुवाई कर रहे डॉ। राम चंद सरस ने कहा कि हर हाल में गाँव समाज की जमीन जिसे गुंडे लोग हथिया लेते हैं उसे खाली होना चाहिये। जब से चकबंदी हुई है तब से ये जमीन कब्जे में की हुई है। कई बार लेखपालों और अधिकारीयों को बुलाया गया लेकिन सुनवाई नहीं हुई। आज हार कर सभी धरने के लिए यहाँ एकत्र हुए हैं।
इसके बाद सीटी मजिस्ट्रेट, रमेश चंद तिवारी को ज्ञापन सौंपा गया। रमेश चंद ने आश्वासन दिया कि जल्द ही कार्यवाही की जाएगी।

रिपोर्टर- गीता देवी

Published on Apr 2, 2018