विभाग कै जर्जर कालोनी

जिला अम्बेडकर नगर, ब्लाक अकबरपुर। बिजली वितरण खण्ड हिंया बिजली कर्मचारी के खातिर कालोनी, सन् 1952 कै बना हुएै। तब से कालोनी कै मरम्मत नाय भै बाय। जे दूसरे के घरे मा रोषनी पहुंचावै ऊ मनई खुद जर्जर कालोनी मा रहै खातिर मजबूर हइन।
धनीराम, सुरेष, षंकर अयोध्या प्रसाद, बताइन कि सरकारी कालोनी दुबारा मरम्मत न होय के कारन कर्मचारी आपन जान जोखिम मा डार के रहत हई। छत कै पलस्तर छूट के नीचे गिर जात बाय। जब से बना अहै तब से एक्कव बार मरम्मत नाय किया गै बाय। इहा दस कालोनी बाय। सब कै इहै हाल बाय कि बरसात के मौसम मा छत से पानी चआथै। यहि नाते कमरा मा हमेषा सीड़ा रहा थै। सीताराम बताइन कि खिड़की, दरवाजा सब जर्जर होई गै बाय। खाली थोरिक पैसा लगाय के रगाई, पोताई कराय दियाथिन अउर दिक्कत वैसे का वैसे बना रहाथै।
बिजली विभाग कै अधिषाषी अभियन्ता मुकेष बाबू बताइन कि सिविल मा अप्लीकेषन दिया गै बाय। जब बजट आये तब ओकर मरम्मत होये तब तक यहि तरह से रहै।